Shane Warne Death : ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज लेग स्पिनर शेन वॉर्न का दिल का दौरा पड़ने से निधन।

ऑस्ट्रेलिया के महान स्पिनर शेन वॉर्न का दिल का दौरा पड़ने से 52 साल की उम्र में हुआ निधन।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज स्पिनर शेन वार्न का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उन्होंने 52 साल की उम्र में अपनी आखिरी सांस ली। शेन वॉर्न की मैनेजमेंट टीम की तरफ से जारी बयान में बताया गया कि उन्हें उनके थाईलैंड के विला में बेसुध हालत में पाया गया था जिसके बाद उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया डॉक्टरों ने उन्हें बचाने की लाख कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। महान स्पिनर शेन वॉर्न थाईलैंड के कोह सामूई में अपने विला में थे।

क्रिकेट इतिहास के महान दिग्गजों स्पिनरों में शामिल शेन वॉर्न का इतनी कम उम्र में देहांत होने से पूरे क्रिकेट जगत में शोक की लहर छा गई है। हर कोई उनकी मौत की खबर से सकते में है। शेन वॉर्न की गिनती दुनिया के महान स्पिनरों में होती है। शेन वॉर्न को बॉल ऑफ द सेंचुरी फेंकने का श्रेय हासिल है।शेन वॉर्न का जन्म 13 सितंबर 1969 को विक्टोरिया में हुआ था। 52 साल की कम उम्र में उनके देहांत होने से हर कोई दुखी है।

भारत के खिलाफ किया था डेब्यू

1992 में सिडनी टेस्ट में उन्होंने भारत के खिलाफ डेब्यू किया था। तथा उन्होंने अपने कैरियर का आखिरी मैच भी सिडनी में ही इंग्लैंड के खिलाफ 2007 में खेला था। महान दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न ऑस्ट्रेलिया के लिए 300 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। वर्ल्ड क्रिकेट में वह मुथैया मुरलीधरन के बाद सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज है। शेन वॉर्न के नाम 145 टेस्ट मैचों में 708 विकेट दर्ज हैं। शेन वॉर्न ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 194 वनडे मैच खेले जिसमें उनके नाम 293 विकेट है। वह मुथैया मुरलीधरन के बाद दुनिया के दूसरे गेंदबाज बने जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 1000 से ज्यादा विकेट चटकाए।

क्रिकेट फैंस और क्रिकेट दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि

भारतीय दिग्गज क्रिकेटर विराट कोहली ने अपनी संवेदनाएं प्रकट करते हुए लिखा कि जीवन बहुत ही अप्रत्याशित है। मुझे अभी तक यकीन नहीं हो रहा है कि वह हमारे बीच नहीं रहे।

भारतीय टीम के दिग्गज क्रिकेटर सुरेश रैना ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए लिखा कि वह मैदान पर हमेशा जादुई थे। उन्होंने शेन वॉर्न के परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट की।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने भी सेन बोर्ड के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट करते हुए कहा है कि यकीन नहीं हो रहा स्पिन को कूल बनाने वाले सुपरस्टार अब नहीं रहे।दुनिया भर में उनके परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।

पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज गेंदबाज शोएब अख्तर ने भी शोक प्रकट करते हुए कहा है कि इस शोक से उबर पाने में समय लगेगा।

ऋषभ पंत

सर रविंद्र जडेजा

शेन वॉर्न ने अपनी स्पीन के जादू में अपने समय के लगभग सभी दिग्गज बल्लेबाजों को आउट किया है। हालांकि उन्हें आस्ट्रेलियाई टीम का कप्तान न बन पाने का भी मलाल था। वह ऑस्ट्रेलियाई टीम के उप कप्तान भी बने लेकिन उन्हें कभी टीम की कप्तानी नहीं मिली। 15 साल तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंद को अपनी उंगलियों पर नचाने वाले दिग्गज स्पिनर ने लगभग सभी महान बल्लेबाजों को अपने जाल में फंसाया।

आईपीएल के पहले सीजन में ही टीम को बनाया चैंपियन आईपीएल के पहले सीजन आईपीएल 2008 में शेन वॉर्न को राजस्थान रॉयल्स टीम की कप्तानी करने का मौका मिला। राजस्थान रॉयल्स यह खिताब अपने नाम कर पाएगी इस चीज की किसी ने कल्पना भी नहीं की थी लेकिन शेन वॉर्न की कप्तानी में उन्होंने यह करके दिखाया। शेन वॉर्न के नाम आईपीएल जीतने वाला पहला कप्तान होने का भी रिकॉर्ड दर्ज है।

विवादों से रहा नाता

शेन वॉर्न का विवादों से गहरा नाता रहा है। मैदान के अंदर तथा बाहर उनका कैरियर हमेशा विवादों से भरा रहा। प्रतिबंधित दवाओं के सेवन के चलते हैं विश्वकप से बाहर हो जाना या फिर पिच की जानकारी देने का फिक्सिंग मामला हो वह हमेशा विवादों से घिरे रहे। इन सबके अलावा उनके ऊपर सट्टेबाजी की भी काफी आरोप लगे थे। और इन विवादों के चलते उन्होंने बहुत कुछ गवाया भी है। हालांकि रिटायरमेंट के बाद भी विवादों से उनका नाता बना ही रहा।

Next Post Previous Post
No Comment
Add Comment
comment url